Home Cultural View History Promotion Tribal Christianity Literature News Download Tutorial Members Area Touch It

       

      7A cm/m hvxvrvl (बुधु भगतस)

 

 

 

 

                     रियारका ण्डी गही मूःली पाँति

वीर बुधु भगतस चान 1828 ती 1832 गूटी बिलाइतीर गही बिड़दो उलगुलान नंजका रहचस। आस संगे आस गही ख़द्दर हलधर अरा गिरधरस हूँ दाँड़े मंजका रहचस।